Latest Posts

करेजा के टुकड़ा एह  तरे  हो गइल

करेजा के टुकड़ा एह  तरे  हो गइल

            करेजा के टुकड़ा एह  तरे  हो गइल       करेजा के टुकड़ा एह  तरे  हो गइल कि हमरा इश्क़ से भरोसा उठ गइल   ओइसे ख़त में उनका झूठ के पुलिंदा घर के आलमारी
ऊ माली हकीकत खू चिन्हत बा

ऊ माली हकीकत खू चिन्हत बा

        ऊ माली हकीकत खू चिन्हत बा     ऊ माली हकीकत खू चिन्हत बा बस  चमन  के  फूल जिनत बा   अपना सुरतिया पर ध्यान नइखे ऊ साथी मगर सुन्दर बिनत बा   जमाना प्यार के बाजार
जियल कठिन बा पर जियल चाहेला आदमी घाव जब हो जाला त सियल चाहेला आदमी आपन दुख सहल सहज ना होला कबो केहूके बाकिर दोसरा के दुख दिहल चाहेला आदमी जनम से मउगत तलक जिम्मा केहू ना निभावे किन्तु हरपल ऊँचा पद लिहल चाहेला आदमी

जियल कठिन बा पर जियल चाहेला आदमी

          जियल कठिन बा पर जियल चाहेला आदमी       जियल कठिन बा पर जियल चाहेला आदमी घाव जब हो जाला त सियल चाहेला आदमी   आपन दुख सहल सहज ना होला कबो केहूके बाकिर दोसरा

अब न पता बाटे ई बहार फेर कब मिली

अब न पता बाटे ई बहार फेर कब मिली     अब न पता बाटे ई बहार फेर कब मिली फूलन के मुख पर उभार फेर कब मिली   खेतन के अंग पर हरियर लिबास बाटे ई दिन चल जाई त
error: Content is protected !!